गट्टा करी या फिर गट्टे की सब्जी मारवाड़ी/ राजस्थानी विशेषता है. बिना प्याज लहसुन के बनने वाला यह व्यंजन खाने में बहुत स्वादिष्ट होता है. गट्टे की करी को आमतौर दही से बनाते हैं, कढ़ी के जैसे.. वैसे कुछ रेस्टोरेंट वाले इस डिश को प्याज और टमाटर की करी में भी बनाते हैं. तो आप भी बनाइए इस यह स्वादिष्ट राजस्थानी व्यंजन और हमेशा की तरह लिखना ना भूलें अपनी राय......

gatta curry

  आवश्यक सामग्री :

(4 लोगों के लिए)

गट्टों के लिए

  • बेसन 1 कप
  • नमक ¼ छोटा चम्मच
  • हींग 2 चुटकी
  • अजवाइन ¼ छोटा चम्म
  • हल्दी 2 चुटकी
  • दही 2 बड़े चम्मच
  • पिसा धनिया ½ छोटे चम्मच
  • अदरक हरी मिर्च का पेस्ट 1 छोटा चम्मच
  • पानी लगभग २ बड़ा चम्मच बेसन गूथने के लिए
  • तेल १ छोटा चम्मच बेसन गूथने के लिए
  • तेल १ बड़ा चम्मच गट्टों को भूनने के लिए
झोल के लिए

  • बेसन 1 बड़ा चम्मच
  • खट्टा दही 1 कप
  • हल्दी पाउडर ½ छोटा चम्मच
  • नमक 3/4 छोटा चम्मच
  • लाल मिर्च पाउडर ½ छोटा चम्मच
  • जीरा ½ छोटा चम्मच
  • तेल/ घी 1 बड़ा चम्मच
  • राई/ सरसों ½ छोटा चम्मच (वैकल्पिक)
  • हींग 2 चुटकी
  • गरम मसाला ¼ छोटा चम्मच 
  • पानी लगभग 1 कप

घर में गट्टों को बनाने की विधि

  1. बेसन को छान लें. अब इसमे पानी को छोड़कर बाकी सभी सामग्री डालें और अच्छे से मिलाएँ.
gatta curry
  1. अब इसमे थोड़ा-थोड़ा पानी डालते हुए कड़ा आटा गूँथ लें. अब इस आटे को गीले कपड़े से ढककर 5-10 मिनट के लिए रख दें.
  2. अब इस आटे को चार हिस्सों में बाँट लें. हाथ में दो बूँद तेल लगाकर एक हिस्से को हथेलियों के बीच में चिकना करें, और लगभग 4 इंच लंबा और 3/4 इंच का लंबा गट्टा रोल बनाएँ. इसी प्रकार बाकी बचे हुए तीन हिस्सों के भी रोल बनाएँ.
gatta curry
  1. अब एक बर्तन में लगभग डेढ़ -दो कप पनी गरम करें. जब पानी उबलने लगे तो इसमें गट्टों के रोल्स डालें और मध्यम आँच पर ८-१० मिनट तक उबालें.
gatta curry
  1. उबले हुए गट्टों को पानी से बाहर निकल लें और पानी को करी/ झोल में डालने के लिए अलग रखें. गट्टों के इन रोल्स को ठंडा होने दीजिए फिर इन्हें १/४-१/२ इंच के टुकड़ों में काट लें.
gatta curry
  1. अब एक कड़ाही में एक बड़ा चम्मच तेल गरम करें. गट्टों को मध्यम आँच पर सुनहरा होने तक भूनें.
gatta curry

झोल बनाने की विधि :

  1. एक कटोरे में बेसन को छान लें. अब इसमें नमक, लाल मिर्च पाउडर, हल्दी पाउडर डालें और थोड़ा थोड़ा पानी डालते हुए मिलाते जाएँ. ध्यान रखें कि घोल में बेसन की गुठली ना पड़ने पाए.
  2. खट्टे दही को अच्छे से फेटें. अब इस फ़िटे हुए दही को बेसन में मिलाएँ.
  3. एक कड़ाही में मध्यम आँच पर तेल गरम करे. अब इसमें जीरा और राई डालें. जब मसाले अच्छे से तड़क जाएँ तो इसमें हींग और खड़ी लाल मिर्च डालें. कुछ सेकेंड्स भूनें और फिर बेसन का घोल और खट्टे दही का घोल डालें. अच्छे से तब तक चलाते रहें जबतक कि एक उबाल नही आ जाता है. उबाल आने में लगभग 5 मिनट का समय लगता है.
gatta curry
  1. पहले उबाल के बाद आँच को धीमा कर दें और करी को 4-5 मिनट के लिए पकने दें. अगर आपको लगता है कि करी बहुत गाढ़ी है तो थोड़ा और पानी मिलाइए, और फिर पकाइए.
  2. अब इसमे गट्टों को डालें और अच्छी तरह मिलाएँ. गट्टों को 3-4 मिनट तक करी में पकाएँ.
  3. अब इसमें गरम मसाला डालें, और अच्छे से मिलाएँ. अब आँच बंद कर दें.
  4. गट्टा करी अब परोसने के लिए तैयार है. अपनी पसंद की रोटी या चावल के साथ परोसें.
gatta curry

लजीज स्पेशल टिप्स :

गट्टा करी बनाने के कुछ और भी तरीके हैं. कुछ रेस्टोरेंट गट्टा करी को प्याज और टमाटर की करी में भी बनाते हैं. तो आप अपने अपने परिवार के स्वाद के अनुरूप बनाइए इस स्वादिष्ट राजस्थानी व्यंजन को..
अगर आप चाहें तो दही की इस स्वादिष्ट करी में अदरक और हरी मिर्च का पेस्ट भी डाल सकते हैं.

Post a Comment

Previous Post Next Post